बहुत उलझन भरा है शिक्षा और शिक्षकों का काम
बहुत उलझन भरा है शिक्षा और शिक्षकों का काम

🔴 शिक्षक और छात्रों की सच्चाई परखकर ही हम शिक्षा व्यवस्था में अपेक्षित सुधार ला सकेंगे । इससे सभी ...

Read more »

लोककल्याणकारी सरकारों एवं जनसेवकों का बदलता स्वरूप और खोखलापन
लोककल्याणकारी सरकारों एवं जनसेवकों का बदलता स्वरूप और खोखलापन

आजादी के बाद जब भारत की संसद का गठन हुआ तो उसमें तमाम ऐसे स्वतंत्रता सेनानी, सांसद बन गए जिन्होने आज...

Read more »

गुणवत्ता के लिए दोषी कौन अध्यापक या व्यवस्था?
गुणवत्ता के लिए दोषी कौन अध्यापक या व्यवस्था?

हम सभी दोस्त महीने में एक बार ढाबे पर खाना जरूर खाते हैं। ढाबा फिक्स है और कारीगर भी। उस ढाबे के खान...

Read more »

जंग-ए-पुरानी पेंशन : उस बाग़ के माली भी बदल जाते हैं, जहाँ के फूल बगावत पर उतर आते हैं
जंग-ए-पुरानी पेंशन : उस बाग़ के माली भी बदल जाते हैं, जहाँ के फूल बगावत पर उतर आते हैं

उस बाग़ के फूल मुरझा जाते हैं , जहाँ के माली बेगाने हो जाते हैं। मित्रों , आज तो बहुत ही थक...

Read more »

शिक्षा के लिए जरूरी बहस : बिना परीक्षा के अगली कक्षा में भेजने की नीति पर पुनर्विचार जरूरी
शिक्षा के लिए जरूरी बहस : बिना परीक्षा के अगली कक्षा में भेजने की नीति पर पुनर्विचार जरूरी

केंद्र सरकार ने पिछले दिनों देश भर के शिक्षा मंत्रियों के साथ आठवीं कक्षा तक बिना परीक्षा के अगली क...

Read more »

भले ही व्यवस्था ने गैरशैक्षणिक कार्यों के जरिये  शिक्षकों का सम्मान और  हौसला तोड़ा हो लेकिन ...
भले ही व्यवस्था ने गैरशैक्षणिक कार्यों के जरिये शिक्षकों का सम्मान और हौसला तोड़ा हो लेकिन ...

आप सब ये तो जानते ही हैं कि 14 मार्च से हमारे परिषदीय बच्चों के एग्जाम शुरू हो रहे हैं। हमें इस घड़ी...

Read more »

विद्यालय  ऐसा हो कि जिसमे प्रवेश के लिए बच्चा अपने घर में जिद करे
विद्यालय ऐसा हो कि जिसमे प्रवेश के लिए बच्चा अपने घर में जिद करे

निःशुल्क एवं अनिवार्य शिक्षा अधिकार कानून लागू हुए 6 वर्ष से अधिक हो गए हैं पर गांधी जी द्वारा 1924...

Read more »

दूध, पानी के गोलमाल से खुली शिक्षा की पोल, सरकारों की इस साजिश को समझने की है जरूरत
दूध, पानी के गोलमाल से खुली शिक्षा की पोल, सरकारों की इस साजिश को समझने की है जरूरत

 यूपी के सरकारी स्कूलों में बच्चों के लिए पेय जल की ऐसी व्यवस्था की गई है जिसमें उन्हें रोज घंटो...

Read more »

भोला भाला भोलू
भोला भाला भोलू

मीना की दुनिया - रेडियो प्रसारण एपिसोड - 80 दिनांक - 17/ 02 /2016 आज की कहानी का शीर्षक...

Read more »

गुल्लक भरो
गुल्लक भरो

मीना की दुनिया - रेडियो प्रसारण एपिसोड - 78 दिनांक - 15/ 02 /2016 कहानी का शीर्षक - “ ...

Read more »
 
 
 
Top